22 Apr 2012

मप्र: खसरा टीकाकरण के लिए भेजे जाएंगे ‘निमंत्रण पत्र’

Article contributed by Mr. Sundip Puranik, Principal Correspondent, IANS, Bhopal, Madhya Pradesh

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में इस बार खसरा टीकाकरण के लिए आमंत्रण पत्र बांटे जाएंगे। इसका मकसद नौनिहालों को सेहतमंद बनाने के लिए उनके अभिभावकों को खसरा टीकाकरण अभियान से जोड़ना है।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर-चम्बल सम्भाग के सात जिलों में 12 सितम्बर से खसरा टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। तीन सप्ताह तक चलने वाले इस अभियान में 20 लाख बच्चों को टीका लगाया जाएगा। इस अभियान के दौरान नौ माह से लेकर 10 वर्ष की आयु के बच्चों को स्कूलों और आंगनवाड़ी केंद्रों में टीके लगाए जाएंगे।
नवजात को 12वें महीने से पहले खसरे का टीका लगावाएं 

ग्वालियर में महिला बाल विकास विभाग व संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ) द्वारा आयोजित मीडिया कार्यशाला में बताया गया कि ग्वालियर-चम्बल सम्भाग के सात जिलों ग्वालियर, भिण्ड, मुरैना, अशोकनगर, दतिया, गुना और श्योपुर में तीन सप्ताह तक टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में लोगों को सीधे तौर पर जोड़ने के लिए आमंत्रण पत्र बांटे जाएंगे। 

इस आमंत्रण पत्र के माध्यम से टीकाकरण कराने वाले बच्चों तथा उनके माता-पिता के साथ-साथ आंगनवाड़ी, आशा तथा एएनएम का नाम दर्ज किया जाएगा। यूनीसेफ के चिकित्सक डॉ.गगन गुप्ता ने बताया कि आमंत्रण पत्र उन परिवारों को भेजे जाएंगे, जिनके बच्चे टीकाकरण की उम्र की सीमा में आते हैं।

No comments:

Post a comment